ई-लेखा

जाल मंच पर ई-लेख प्रकाशन का दूसरा प्रयास ।

Tuesday, October 18, 2005

सर उठा के - माई फुट

आजकल एक शीतल पेय का विज्ञापन आ रहा है कि आप सर उठा कर पीओ। और दिखाया जाता है कि सब बोतल को मुँह लगा कर गटागट पी रहे हैं । पर आप कितनी बार सर बिना ऊपर किए बिना चुपचाप स्ट्रा से या गिलास से पी जाते हैं । क्या वो सर झुका कर पीना हुआ ?
क्या कोक पीने से आपका सिर ऊपर होता है ?
क्या बकवास है ?

3 Comments:

  • At 2:14 PM, Blogger अनुनाद सिंह said…

    कोक नहीं , कहर है ।
    ठण्डा जहर है ॥

     
  • At 4:45 PM, Blogger आलोक said…

    चुटकुला

    एक लड़की ने coke खरीदा। उसने बोतल खोली तो उसमें से एक मक्खी निकली और वह निकलते ही बोली,

    "माँ!"


    क्यों?


    क्योंकि वो उसकी coke से निकली थी!

     
  • At 6:03 PM, Blogger आलोक said…

    अमीर खाँ का सिर फिर चुका है, घटिया फ़िल्में और घटिया इश्तिहार, दोनो इसके ज्वलन्त उदाहरण हैं।

     

Post a Comment

<< Home